यूपीपीएससी एग्जाम पैटर्न और सिलेबस 2020

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी)/Uttar Pradesh public Service Commission (UPPSC) ढेर सारी परीक्षाओं का आयोजन करता है। अलग-अलग परीक्षाओं के लिए अलग-अलग सिलेबस/Syllabus और पैटर्न/Pattern का निर्धारण भी किया गया है। यूपीपीएससी/UPPSC की ऑफीशियल वेबसाइट/Official Website पर सभी जरूरी चीजों को अपडेट/Update किया जाता है। इस आर्टिकल में परीक्षा पैटन और सिलेबस के बारे में विस्तार से बताया जाएगा।

एग्जाम पैटर्न/Exam Pattern

यूपीपीएससी की ज्यादातर परीक्षाएं आमतौर पर तीन भांगों में बंटी हुई हैं। दो परीक्षाओं का आयोजन लिखित आधार पर किया जाता है, जबकि साक्षात्कार/Interview के लिए मौक्षिक परीक्षा का आयोजन किया जाता है। इसमें प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और इंटरव्यू शामिल है। शुरुआती परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का चयन/Selection मुख्य परीक्षा के लिए किया जाता है। जबकि मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। साक्षात्कार में सफल अभ्यर्थी पदों/Posts के लिए योग्य/Eligible माने जाते हैं। इसके बाद उनकी नियुक्ति/appointment की प्रक्रिया शुरू हो जाती है।

परीक्षा के लिए सिलेबस/Syllabus for Exam

इसी तरह यूपीपीएससी की ज्यादातर परीक्षाओं के लिए अलग-अलग पाठ्यक्रम/Syllabus  भी तय किए गए हैं। परीक्षा के लिए नोटिफिकेशन/Notification जारी होने के बाद यूपीपीएससी/UPPSC सिलेबस जारी करता है। किसी भी परीक्षा का सिलेबस देखने के लिए अभ्यर्थियों को आयोग की ऑफीशियल वेबसाइट uppsc.up.nic.inपर विजिट करना होगा। अभ्यर्थी परीक्षा सिलेबस/Syllabus को डाउनलोड/Download भी कर सकते हैं। ऑनलाइन एप्लीकेशन फार्म/Online Application Form भरने के बाद आयोग की तरफ से एडमिट कार्ड जारी किया जाता है। इसके बाद परीक्षा का आयोजन किया जाता है। परीक्षा के बाद उत्तरकुंजी/Answer-Key और फिर परिणाम/Result जारी किए जाते हैं। अभ्यर्थी कटऑफ/Cut-off भी देख सकते हैं।

परीक्षा के लिए योग्यता/Educational Eligibility

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के एग्जाम/Exam के लिए योग्यता भी तय की गई है। आयोग/Commission की परीक्षाओं में वही अभ्यर्थी/Candidates शामिल हो सकते हैं, जिनके पास कम से कम स्नातक/Graduation की डिग्री/Degree है। अगर अभ्यर्थियों के पास किसी वजह से स्नातक की डिग्री नहीं है तो फिर वे परीक्षाओं में हिस्सा/Participate नहीं ले सकते हैं। परीक्षार्थियों के लिए भारत का मूल नागरिक होना जरूरी है। उत्तर प्रदेश के मूल निवासी ही यूपीपीएससी की परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं।

एग्जाम के लिए आयु/Age Limit for Exam

यूपीपीएससी/UPPSC की परीक्षाओं के लिए आयु सीमा/Age Limit भी तय है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की अलग-अलग वर्गों/Category के लिए होने वाली परीक्षाओं के लिए अभ्यर्थियों की उम्र 21 से 40 साल के बीच होनी चाहिए। एसएससी-एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग सहित दूसरे तमाम आरक्षित वर्ग/Reserve Category के अभ्यर्थियों के लिए उम्र में छूट का प्रावधान है। परीक्षाओं के हिसाब से उन्हें आवेदन करने में छूट प्रदान दी गई है।

प्रदेशीय विभागों में मिलती है तैनाती/ Successful Applicants are appointed in state departments

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) छोटी-बड़ी ढेर सारी परीक्षाओं का आयोजन करता है। सफल अभ्यर्थियों की नियुक्ति प्रदेश के अलग-अलग विभागों/Department में की जाती है। रिक्त पदों/Vacant Posts को भरा जाता है। पीसीएस/PCS यूपीपीएससी की सबसे बड़ी परीक्षा है। पीसीएस की परीक्षा में हर साल लाखों परीक्षार्थी हिस्सा लेते हैं।

 

Munendra Singh

Leave a Comment

%d bloggers like this: