पोस्ट ऑफिस से लोन कैसे ले | Post Office Loan Scheme in Hindi (पात्रता और नियम)

Post Office Loan Scheme

डाकघर भी अब बैंकों की तरह काम कर रहे हैं। यहां अकाउंट खोलने और एफडी आदि की सुविधा तो पहले से ही मिल रही है, ऑनलाइन सिस्टम के तहत ट्रांजैक्शन की व्यवस्था भी शुरू कर दी गई है। इससे भी ज्यादा खास बात यह है कि लोग अब डाकघरों से लोन भी हासिल कर सकेंगे। इस आर्टिकल में डाकघरों से लोन (Post Office Loan) हासिल करने का तरीका बताया जा रहा है। लोन से जुड़ी दूसरी जरूरी जानकारी को भी साझा किया जाएगा। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल को आखिरी तक पढ़ें।

रेकरिंग डिपॉजिट | Recurring deposit (आवर्ती जमा) क्या है | RD Scheme in Hindi

डाकघरों (Post Office) को मिला बैंकिंग लाइसेंस

डाकघरों के पास अभी तक बैंकिंग लाइसेंस नहीं था। इसलिए डाकघरों का दायरा सीमित था। वे बैंकों की तरह अपने खाताधारकों को हर तरह की सुविधा मुहैया नहीं करा सकते थे। डाकघरों को बैंकिंग लाइसेंस मिलने के बाद उन्हें वे सारे अधिकार भी मिल गए हैं, जो बैंकों के पास हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने इसे मंजूर कर लिया है। यही वजह है कि डाकघरों में पेमेंट बैंक जैसी योजनाएं भी शुरू हो गई हैं।

आरडी अकाउंट पर लोन की व्यवस्था

डाकघरों में जो लोग रेकरिंग डिपॉजिट के तहत पैसे जमा कर रहे हैं, उनके लिए लोन की व्यवस्था शुरू की गई है। खाताधारक होम लोन के साथ पर्सनल लोन भी हासिल कर सकते हैं। आरडी अकाउंट होल्डर डाकघरों में पहुंचकर लोन के लिए आवदेन कर सकते हैं। उन्हें इसके लिए जरूरी औपचारिकताओं को पूरा करना होगा। आरबीआई के नियमों के अनुसार ही लोन की रकम मंजूर की जाएगी।

बचत बैंक खाता (Saving Account) क्या है | SB में कितना पैसे जमा कर सकते है (नियम)

आरडी खाताधारकों के लिए Post Office Loan Limit

पेमेंट बैंक योजना के तहत आरडी खाताधारकों के लिए फिलहाल एक लाख रुपये तक के लोन की व्यवस्था की गई है। यह नियम होम और पर्सनल, दोनों तरह के लोन हासिल करने के लिए बनाए गए हैं। संबंधित अधिकारियों का मानना है कि बैंकिंग लाइसेंस मिलने के बाद डाकघरों की कोशिश यही है कि वे शुरू में बैंकों की तरह अपने खाताधारकों को भी सभी तरह की सुविधा मुहैया कराएं। इस कड़ी में लोन के रूप में एक लाख रुपये तक मंजूर किए जाएंगे। बाद में इस सीमा को बढ़ाया जाएगा। 

आरडी अकाउंट होल्डर्स को लोन लेने के लिए फार्म भरना होगा

आरडी अकाउंट होल्डर्स को लोन हासिल करने के लिए डाकघरों में फार्म भरना होगा। किसी भी नजदीकी डाकघर में पहुंचकर लोन के लिए फार्म भरा जा सकता है। फार्म पर लोन की रकम, लोन का प्रकार लिखना होगा। आवेदन फार्म पर मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी, आरडी खाता नंबर भी लिखना होगा। फार्म पर सभी जरूरी जानकारी दर्ज करने के बाद उसे संबंधित अधिकारी या कर्मचारी के काउंटर पर जमा कर दें। मामूली जांच प्रक्रिया को पूरा करने के बाद डाकघर द्वारा लोन की रकम मंजूर कर दी जाएगी। 

फिक्स्ड डिपॉजिट | Fixed deposit (सावधि जमा) क्या है | FD कैसे कैलकुलेट करते है 

पोस्ट ऑफिस (Post Office) ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा

डाकघरों में ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा भी दी जा रही है। सुकन्या समृद्धि अकाउंट, पीपीएफ और आरडी अकाउंट के तहत खाताधारकों को ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा मुहैया कराई जा रही है। चूंकि स्मॉल फाइनेंस बैंक अपने ग्राहकों को सेविंग, करंट अकाउंट, एफडी, आरडी, लोन, म्युचुअल फंड, इंश्यारेंस, रेमिटेंस आदि सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं, इसलिए डाकघरों में अभी तक इसमें से जो सुविधा नहीं थी, उन्हें मुहैया कराने का सिलसिला शुरू किया गया है।

मुद्रास्फीति (Inflation) किसे कहते हैं | Types of Inflation in Hindi (Explained)

Munendra Singh

Leave a Comment

%d bloggers like this: