प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना क्या है | PM SSY Scheme Explained in Hindi

PM SSY Scheme क्या होता है

बेटी की पढ़ाई का मामला हो या फिर शादी की फिक्र, सुकन्या समृद्धि योजना में हर मसले का हल है। केंद्र सरकार ने इससे जुड़े सभी पहलुओं को ध्यान में रखते हुए सुकन्या समृद्ध येाजना की शुरुआत की है। योजना के जरिए बेहतर निवेश तो किया जा सकता ही है, यह आपकी बचत को सुरक्षा भी प्रदान करता है। इस आर्टिकल में प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। योजना के सभी तकनीकी पहलुओं को भी साझा किया जाएगा। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।

Cancelled Cheque in Hindi | कैंसिल चेक क्या होता है | कैंसिल चेक कैसे बनाये

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना का खता बैंकों या डाकघरों में खुलवाएं

केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी राष्ट्रीय बैंक या फिर डाकघरों में खाता खुलवाया जा सकता है। खाता सिर्फ बेटियों के नाम पर ही खुलवाया जा सकता है। 10 साल या इससे कम उम्र की बच्ची के नाम पर खाता खुलवाने की सुविधा है। यह केंद्र सरकार की एक छोटी बचत योजना है, जिसे बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं स्कीम के तहत लांच किया गया है।

सुकन्या समृद्धि योजना का खता 250 रुपये से खुलवा सकते हैं

सुकन्या समृद्धि योजना से जुड़ने के लिए बैंक और डाकघरों में खाता खुलवाने का नियम है। खाता 250 रुपये के साथ खुलवाया जा सकता है। योजना के तहत चालू वित्तीय वर्ष में अधिकतम डेढ़ लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं। सरकार ने इसके लिए पूरी गाइडलाइंस जारी किया है। खाता खुलवाने से पहले बैंकों और डाकघरों के जरिए इसे हासिल किया जा सकता है। बैंकों के पास इससे संबंधित पूरा चार्ट है, जिसपर योजना से जुड़े सभी पहलुओं को दर्शाया गया है।

Balance Sheet in Hindi | बैलेंस शीट या तुलन पत्र क्या होता है | बैलेंस शीट कैसे बनाये

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में कब तक रुपया जमा कर सकते हैं

प्रधानमंत्री समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने के बाद इसे 21 साल की उम्र तक चलाया जा सकता है। यानी इस अवधि तक निवेश की छूट है। अगर बच्ची की पढ़ाई या शादी का मामला है तो फिर 18 साल की उम्र में भी ब्रेक किया जा सकता है। बैंकों या डाकघरों को इसकी पूरी जानकारी देना होगा। जरूरी दस्तावेजों की मांग भी की जा सकती है। लोगों को नियम का पालन करना होगा।

PM SSY Scheme का ब्याज दर

बैंकों में एफडी कराने के बाद लोगों को ब्याज के रूप में जो रकम मिल रही है, सुकन्या समृद्धि योजना के तहत ब्याज के रूप में इससे ज्यादा रकम मिलेगी। शुरुआत में इसपर 9.1 फीसदी दर के साथ भुगतान किया जा रहा था। लोगों को इसके तहत 9.2 ब्याज दर के साथ भुगतान किया गया है। बैंकों और डाकघरों के पास पूरा चार्ट है, जिसके जिरए ब्याज की गणना की जा सकती है। यानी बैंकों में एफडी की बजाय सुकन्या समृद्धि योजना के तहत निवेश किया जा सकता है।

फॉर्म 60 क्या होता है | Form 60 Explained in Hindi

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक बच्ची के नाम पर एक खाता

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के तहत एक बच्ची के नाम पर एक ही खाता खुलवाया जा सकता है। एक ही बच्ची के नाम पर बैंकों और डाकघरों में अलग-अलग खाता खुलवाने की सुविधा भी नहीं है। अगर किसी की दो बच्ची है तो वह दोनों के नाम से अलग-अलग खाता खुलवा सकता है। योजना के तहत लोग अपनी दो बेटियों के नाम से अलग-अलग खाता खुलवा सकते हैं। शादी से जुड़े खर्च के मामले में 18 साल की उम्र के बाद 50 फीसदी रकम निकाली जा सकती है।

सुकन्या समृद्धि योजना के लिए री दस्तावेज

  • अभिभावकों को प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए जरूरी दस्तावेजों को फार्म के साथ अटैच करना होगा।
  • अभिभावक इसके लिए बच्ची का बर्थ सर्टिफकेट लगा सकते हैं। बच्ची अगर स्कूल में पढ़ रही है तो उसके आईडेंटिटी कार्ड को भी लगाया जा सकता है।
  • पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाणपत्र लगाए जा सकते हैं। एडरेस प्रूफ के लिए बिजली, फोन का बिल, राशन कार्ड का उपयोग करें।
  • पासपोर्ट साइज फोटो, मोबाइल नंबर की जरूरत भी पड़ेगी। अभिभावक अपना मोबाइल नंबर दर्ज करा सकते हैं।

शेयर बाजार (Stock Market) क्या है | शेयर कैसे ख़रीदे – नियम की जानकारी

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता बंद हो जाता है तो जुर्माना देकर नियमित कर सकते हैं

अगर अभिभावक किसी वजह से खाते में न्यूनतम रकम नहीं डाल पाए हैं तो जुर्माने के रूप में 50 रुपये अतिरिक्त जमा करना होगा। इसके बाद खाता नियमित हो जाएगा। खाता खुलने के बाद 15 साल तक इसमें पैसे जमा किए जा सकते हैं। 24 से 30 साल के बीच खाता परिपक्व हो जाता है। जमा रकम पर ब्याज मिलता रहेगा। खाते में पैसे जमा करने के लिए कैश, चेक, डिमांड ड्राफ्ट की प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जा सकता है। बैंकों में एटीएम के जरिए भी पैसे जमा किए जा सकते हैं।

पोर्टफोलियो क्या है | Portfolio Meaning in Hindi (शेयर बाजार)

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना खाता कैसे खुलवाएं

प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना के तहत बैंक की किसी भी ब्रांच में खाता खुलवाया जा सकता है। इसी तरह डाकघर में भी खाता खोलने का नियम है। ब्रांच या डाकघर में पहुंचकर योजना के तहत फार्म भरना होगा। फार्म पर सभी जरूरी जानकारी दर्ज करें। नाम, क्षेत्र, पता लिखने के बाद मोबाइल नंबर भी लिखना होगा। सभी जरूरी जानकारी दर्ज करने के बाद फार्म के साथ जरूरी दस्तावेजों को अटैच कर सकते हैं। फार्म को इसके बाद संबंधित काउंटर पर जमा कर दें। अकाउंट खोल दिया जाएगा।

सिप क्या होता है | फुल फॉर्म | सिप निवेश कैसे करे (SIP Meaning Explained in Hindi)   

Munendra Singh

Leave a Comment

%d bloggers like this: