मॉर्गेज लोन क्या है | Mortgage loan कैसे प्राप्त करे – बंधक ऋण प्रक्रिया की जानकारी

मॉर्गेज लोन (Mortgage loan) क्या है

मॉर्गेज लोन में किसी संपत्ति को गिरवी रखकर बैंक या फिर किसी भी वित्तीय संस्थान से उधार के रूप में पैसे हासिल किए जा सकते हैं। आमतौर पर इसी को मॉर्गेज लोन कहते हैं, जिसे होम लोन के नाम से भी जाना जाता है। चूंकि होम लोन के लिए घर या जमीन के कागजात बैंकों में जमा करने होते हैं, इसलिए इस प्रक्रिया के तहत आसानी से लोन की रकम मंजूर कर ली जाती है। इस आर्टिकल में मॉर्गेज लोन (Mortgage loan) के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। इससे जुड़े दूसरे सभी जरूरी तकनीकी पहलुओं को भी साझा किया जाएगा। पूरी जानकारी हासिल करने के लिए आप आर्टिकल को आखिरी तक पढ़ें।

म्यूच्यूअल फण्ड में कैसे निवेश करें | Invest in Mutual Fund Online in Hindi (Guide)

Mortgage loan का आवेदन नया मकान बनाने के लिए भी कर सकते हैं

अगर किसी व्यक्ति को नया मकान बनवाना है, तो वह मॉर्गेज लोन के लिए आवेदन कर सकता है। इसके लिए उसके पास खुद की जमीन होनी चाहिए। बैंक प्रापर्टी की स्थिति देखकर लोन के लिए रकम मंजूर करते हैं। इसके लिए एरिया ज्यादा मायने रखते हैं। यानी शहरी एरिया के सर्किल रेट और जमीन की कीमत को ध्यान में रखकर ही बैंकों द्वारा लोन के लिए पैसे जारी किए जाते हैं। इसके लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है। जमीन के कागज बैंकों के पास जमा हो जाएंगे।

मॉर्गेज लोन के प्रकार

मॉर्गेज लोन आमतौर पर कई प्रकार के होते हैं। हालांकि इक्विटेबल और ओरल मॉर्गेज पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है। हाउसिंग फाइनेंस कंपनियां ओरल मॉर्गेज लोन के लिए आवेदक की प्रापर्टी चेक करती हैं। जांच में सबकुछ सही पाए जाने के बाद कंपनियां लोन के लिए ऑफर करती हैं। हालांकि इसमें मॉर्गेज को रजिस्टर करने की जरूरत नहीं पड़ती है। एग्रीमेंट साइन कर सिर्फ जमीन से जुड़े कागजात और जरूरी दस्तावेजों की मांग की जाती है, जिन्हें उपलब्ध कराने पर लोन मंजूर कर लिए जाते हैं।

LIC Aadhaar Stambh in Hindi | एलआईसी की आधार स्तम्भ – प्रीमियम कैलकुलेटर  

रजिस्टर्ड मॉर्गेज क्या है

रजिस्टर्ड मॉर्गेज लोन में गिरवी सामग्रियों को अथॉरिटी के साथ रजिस्टर किया जाता है। यही नहीं, प्रापर्टी मॉर्गेज रजिस्ट्रेशन पर लगने वाले चार्जेज सरकारी आंकड़ों में दर्ज हो जाते हैं। ऐसे में कर्ज लेने वाले व्यक्ति को आमतौर पर रजिस्ट्रेशन चार्ज भी अदा करना पड़ता है। लोन के लिए पैसे जारी होने के दौरान बैंकों द्वारा इस तरह की चीजों को क्लियर किया जाता है। आवेदकों को कभी-कभी इसके बारे में पहले ही बता दिया जाता है, ताकि वे दिगामी तौर पर इसके लिए तैयार रह सकें।

मॉर्गेज लोन के तहत 80 फीसदी तक कर्ज ले सकते हैं

मॉर्गेज लोन में लोग अपनी प्रापर्टी की कीमत का 80 फीसदी तक उधार ले सकते हैं। कई मामलों में मॉर्गेज लोन की रकम करीब 85 फीसदी तक पहुंच जाती है। उदाहरण के तौर पर अगर किसी जमीन की कीमत एक करोड़ रुपये है तो इसपर लोन के रूप में 85 लाख रुपये तक जारी किए जा सकते हैं। कुल मिलाकर यह प्रापर्टी की कीमत पर निर्भर है। प्रापर्टी की जांच के दौरान आमतौर पर उसकी कीमत की समीक्षा ही की जाती है। इसी तरह मॉर्गेज लोन चुकाने की अवधि हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों द्वारा तय की जाती है। इसपर लोगों की डिमांड को भी ध्यान में रखा जाता है।

पीआईबी या प्रेस सूचना ब्यूरो क्या है | फुल फॉर्म | What is PIB Explained in Hindi

मॉर्गेज लोन में रीपेमेंट पीरियड क्या है

मॉर्गेज लोन में रीपेमेंट पीरियड को लोन के टर्म के तौर पर जाना जाता है। यानी बैंक आपको यह सुविधा देते हैं कि आप पहले से तय अवधि में ईएमआई के जरिए मॉर्गेज लोन चुका सकते हैं। लोन का बैलेंस सालाना, मासिक और प्रतिदिन के तौर पर घटता रहता है। जब होम लोन के लिए डाउन किया जाता है तो मॉर्गेज लोन में भी डाउन पेमेंट की रकम 10-20 फीसदी तक हो सकती है। यानी आवेदक अगर समय से पहले लोन चुकाना चाहते हैं तो वह ऐसा कर सकते हैं। तय तारीख से पहले लोन चुकाकर ब्याज को बचाया जा सकता है।

राजस्व ,प्राथमिक घाटा क्या होता है | Revenue, Primary Deficit Explained in Hindi 

मॉर्गेज लोन का आवेदन कैसे करें

होम लोन या मॉर्गेज लोन के लिए आसानी के साथ आवेदन किया जा सकता है। इसके लिए राष्ट्रीयकृत या निजी बैंकों में आवेदन करना होगा। बैंक की किसी भी शाखा में पहुंचकर आवेदन फार्म भर सकते हैं। जरूरी दस्तावेजों को आवेदन फार्म के साथ अटैच कर किसी भी काउंटर पर जमा कर दें। आवेदन स्वीकार कर लिए जाएंगे। जांच के बाद लोन के लिए पैसे जारी कर दिए जाएंगे। आवेदकों को दस्तावेज के रूप में बैंक पासबुक, आधार कार्ड, पैन कार्ड, इनकम सर्टिफिकेट, जमीन या घर के कागजात, जन्म प्रमाणपत्र, पासपोर्ट साइज फोटो, मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी आदि की जरूरत पड़ सकती है। लोन के लिए ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है। इसके लिए बैंकों की ऑफीशियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।

पर्सनल लोन क्या होता है | पर्सनल लोन कैसे प्राप्त करे – योग्यता और डाक्यूमेंट्स 

Munendra Singh

Leave a Comment

%d bloggers like this: